Wednesday, February 1, 2023
Homeরাজ্যकरनाल के 136 पब्लिक टॉयलेट में लटक रहे ताले, सफाई व्यवस्था बदहाल

करनाल के 136 पब्लिक टॉयलेट में लटक रहे ताले, सफाई व्यवस्था बदहाल

करनाल/केसी आर्य:  करनाल शहर हाल ही में स्वच्छ सर्वेक्षण में पूरे देश के 1 से दस लाख की आबादी के शहरों में 17 वां स्थान हासिल किया है। लेकिन जो नगर निगम और प्रशासन की तरफ से शहर में 136 पब्लिक शौचालय खोले गए हैं। वहां या तो ताले लटके हैं या फिर बुरी हालत में हैं या फिर सफाई नहीं है, शहर में कई स्थानों पर सफाई व्यवस्था चरमराई हुई है और जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए हैं

vlcsnap 2020 09 17 13h31m54s146 vlcsnap 2020 09 17 13h31m43s38

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में  लेकर में करनाल को पूरे देश के 1 से 10 लाख की आबादी के शहरो में 17वां स्थान हासिल हुआ है। लेकिन तस्वीरे कुछ और ही बयां कर रही है। शहर में ताले लटके टॉयलेट या जो खुले हैं उनका बुरा हाल है, ताले लटके टॉयलेट्स के -सुलभ शौचालय,  शोरोरुम और ई टॉयलेट जो पिछले कई महीनों से बंद पड़े हुए है। शहर में 136 पब्लिक टायलेट्स में से ज्यादातर पर ताले लटके हुए हैं ।या बुरी हालत में हैं

vlcsnap 2020 09 17 13h31m16s23 vlcsnap 2020 09 17 13h30m59s97 vlcsnap 2020 09 17 13h30m32s68 vlcsnap 2020 09 17 13h29m56s251vlcsnap 2020 09 17 13h29m27s108

शहर के इन ज्यादा टॉयलेट्स पर कहीं ताला लटका है तो कहीं सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है। किसी टॉयलेट की टोंटी टूटी पड़ी है तो किसी के दरवाजे ही बंद नहीं होते हैं। इतना ही नहीं किसी के दरवाजे भी चोर ले गए , यानि ई-टॉयलेट से भी पब्लिक को कोई सुविधा नहीं मिल पा रही है। लाखों रुपया खर्च कर बनाए गए ये टॉयलेट्स जनता के काम न आ सके मजबूरन लोग इधर उधर दीवारें जगह गंदी करते हैं, बार-बार के दावों के बावजूद नगर निगम इन टॉयलेट्स की सुविधा को जन अनुकूल नहीं बना पाया है न ही सफाई की व्यवस्था, रख रखाव ठीक कर पाया , यदि किसी जगह कोई सुचारु रूप से चल रहा है तो वो लोगों के अपने प्रयास से  अब ये शो पीस बनकर रह गए हैं

RELATED ARTICLES
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it

Most Popular